Trending Nowखेल खबरशहर एवं राज्य

DINESH KARTIK : ‘धोखा’ खाने के बाद दिल टूटा लेकिन उम्मीद नहीं, हर फैन की जुबान पर एक नाम DK बॉस संभाल लेगा …

DINESH KARTIK: Heartbroken after being ‘cheated’ but no hope, DK Boss will handle a name on every fan’s tongue…

रायपुर डेस्क। भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना हो चुकी है। वही, दिनेश कार्तिक T-20 वर्ल्ड कप खेल रहे हैं, बॉलर सब कितना भी रन खाए, डीके बॉस संभाल लेगा। हर इंडियन क्रिकेट फैन की जुबान पर आजकल यही बात है। कहते हैं कभी-कभी प्रतिभा और अन्याय भगवान किसी की किस्मत में एक साथ लिख देता है। दिनेश कार्तिक इसका जीता जागता उदाहरण हैं। डीके भारत के पहले ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने अपने 18 साल के इंटरनेशनल करियर में एक भी मैच चोट के कारण मिस नहीं किया। वह अलग बात है कि 3 मई 2004 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट डेब्यू करने के बाद अगले 87 टेस्ट मैचों में बीसीसीआई ने उन्हें टीम में नहीं लिया।

यही नहीं, डीके 2007 T-20 वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा थे लेकिन उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं दिया गया। कोई और होता तो कब का संन्यास लेकर नशे में डूब जाता। सचिन के दोस्त विनोद कांबली का किस्सा तो आपको पता ही है। पर 2007 में दिनेश कार्तिक ने अपनी बचपन की दोस्त निकिता वंजारा से शादी की। उन्होंने सोचा कि नया रिश्ता उनकी जिंदगी को नया मोड़ देगा। इस दौरान 2012 तक यह माना जाता था कि अगर धोनी कोई मैच नहीं खेल पाएंगे तो उनकी जगह भारत के लिए डीके कीपिंग की कमान संभालेंगे। प्रदर्शन अच्छा था, दिनेश को तमिलनाडु का कप्तान चुन लिया गया। इसी बीच तमिलनाडु के उनके साथी खिलाड़ी मुरली विजय से निकिता का अफेयर हो गया। यह बात डीके को छोड़कर पूरी टीम को पता थी।

निकिता मुरली के बच्चे की मां बनने वाली थीं। यह सच है कि अच्छे आदमी की अच्छाई का हर कोई फायदा उठाता है। हकीकत जानने के बाद 2012 में डीके ने अपनी पत्नी को तलाक दे दिया और निकिता दूसरी शादी कर मुरली के साथ रहने लगीं। अब डीके का वक्त बदल गया। बेवफाई के दंश से उनका खेल काफी बुरी तरह प्रभावित हुआ। हद तो यह हो गई कि दिनेश कार्तिक से तमिलनाडु की कप्तानी छीन कर मुरली विजय को दे दी गई। मुरली चेन्नई सुपर किंग्स की तरफ से आईपीएल में शानदार प्रदर्शन करने लगे और भारतीय टीम में भी चुन लिए गए। इधर डीके टूट चुके थे। आईपीएल में भी उनके बल्ले से रन नहीं निकल रहे थे। इस मुश्किल दौर में उनका हाथ थामने के लिए कोई नहीं था।

दिनेश कार्तिक भयंकर डिप्रेशन के शिकार हो गए। उनके ट्रेनर ने एक न्यूज को बताया कि बचपन की सबसे खास दोस्त और बाद में प्रेमिका फिर पत्नी बनी लड़की के धोखे से डीके इतने निराश हो गए कि अपनी जिंदगी खत्म कर देना चाहते थे। जब कार्तिक ने जिम जाना भी बंद कर दिया तो उनक ट्रेनर को चिंता हुई। वह डीके से मिलने घर पहुंचे तो देखा कि दिनेश घर के एक कोने में दाढ़ी बढ़ाए टूटे हुए बैठे हैं। उनकी आंखों में आंसुओं का सैलाब भरा पड़ा था। पर क्या मजाल जो एक भी बूंद गालों पर लुढ़क जाए! जो आदमी बेबसी में रो भी नहीं सकता, उससे ज्यादा बदकिस्मत कोई और हो नहीं सकता।

जिम ट्रेनर ने डीके को जबरदस्ती दोबारा जिम ज्वाइन करवाया। वहीं पर उनकी मुलाकात स्क्वैश प्लेयर दीपिका पल्लीकल से हुई। वह डीके से 6 साल छोटी थी लेकिन उनके दर्द से मोहब्बत कर बैठी। समाज के तमाम बंधनों को दरकिनार करते हुए 18 अगस्त 2015 को दोनों ने शादी कर ली। दीपिका के कहने पर कार्तिक ने दोबारा नेट्स में अभ्यास शुरू किया। दीपिका ने कई बार अपनी प्रैक्टिस छोड़कर भी डीके को सपोर्ट किया। लेडी लक मिला तो डीके भी फॉर्म में लौट आए। चेन्नई का सबसे पॉश इलाका है पोएस गार्डन। वहां घर खरीदने का सपना बहुतों ने देखा लेकिन काफी कम लोग उसे पूरा कर सके। डीके ने भी यह सपना देखा था। दीपिका ने भरोसा दिया कि हम दोनों मिलकर मेहनत करेंगे और तुम्हारा सपना पूरा करेंगे।

दीपिका सचमुच दिनेश के लिए लक्ष्मी का रूप हैं। सपना पूरा हो गया। पोएस गार्डन में डीके ने अपना घर खरीद लिया। उधर मुरली विजय का करियर लगातार खराब होता गया। दिन तो यहां तक आ गए कि स्टेट लेवल क्रिकेट में फील्डिंग के दौरान दर्शकों ने डीके-डीके चिल्लाकर उनकी जमकर हूटिंग की। इस पर मुरली ने हाथ जोड़कर माफी मांगी।

सब कुछ सही चल रहा था लेकिन 35 वर्षीय दिनेश को कोलकाता नाइट राइडर्स ने 2021 में कप्तानी से हटा दिया। इस वक्त डीके ने क्रिकेट छोड़ने का मन बना लिया था। इसी साल उनकी पत्नी ने जुड़वा बेटों को जन्म दिया। कार्तिक ने परिवार के भविष्य की खातिर कमेंट्री शुरू कर दी। फिर एक बाद दीपिका ने भरोसा दिया कि मैं मां बनने के बाद दोबारा देश के लिए फिट होकर खेलूंगी और साथ में तुम भी अपने खेल पर मेहनत करो। मैं जानती हूं कि तुम टीम में वापसी करोगे।

दीपिका के कहने पर डीके ने जान लगा दी। नतीजा है कि आईपीएल 2022 में 183 की स्ट्राइक रेट से 16 मुकाबलों में 330 रन बनाकर वह ‘सुपर स्ट्राइकर ऑफ द सीजन’ बन गए। उसके बाद भारतीय क्रिकेट टीम के लिए ऐसा धमाकेदार प्रदर्शन किया कि अब उनके बिना T-20 टीम की कल्पना भी बेमानी है।

जिस तरह दीपिका के सपोर्ट से दिनेश कार्तिक ने अपना हर सपना पूरा किया, उम्मीद है कि भारत को टी-20 वर्ल्डकप जिताने का ख्वाब भी वह जरूर पूरा करेंगे। अब तो उनके साथ 140 करोड़ देशवासियों की दुआएं भी हैं। डीके ने साबित कर दिखाया कि अगर कोई पूरी शिद्दत से मेहनत करे तो समूची कायनात खुद उसे मंजिल तक पहुंचाती है।

 

Share This:
%d bloggers like this: