Trending Nowदेश दुनिया

24 घंटे के निर्जला व्रत के दौरान हो सकता है डिहाइड्रेशन, बचाव के लिए सरगी में इन बातों का रखें ध्यान

हरतालिका तीज, हर वो लड़की वो स्त्री करती है जिसे एक अच्छा पति पाने की इच्छा हो। क्योंकि इस व्रत की शुरुआत पार्वती जी ने भी इसी इच्छा से की थी और भगवान शिव को वर के रूप में पाया था। इस व्रत में शिव-गौरी पूजन की परंपरा रही है और पूरे दिन 24 घंटे निर्जला रहना होता है। ऐसे में शरीर में डिहाइड्रेशन यानी पानी की कमी हो सकती है। पानी की कमी के कारण चक्कर आ सकता है, पैर हाथ में दर्द होता है और फिर आपको अकड़न और सिर दर्द भी हो सकता है। ऐसे में डिहाइड्रेशन से बचाव के लिए आप सुबह की सरगी के दौरान इन टिप्स को अपना सकते हैं।

24 घंटे के निर्जला व्रत के दौरान हो सकता है डिहाइड्रेशन- Nirjala fasting on hartalika teej tips to prevent dehydration in hindi

1. नारियल पानी पिएं
नारियल पानी पीना डिहाइड्रेशन से बचाव का एक कारगर तरीका हो सकता है। दरअसल, निर्जला व्रत के दौरान शरीर डिहाइड्रेट होकर बीमार पड़ सकता है और ऐसे में नारियल पानी पीना आपके शरीर में हाइड्रेशन को बहाल कर सकता है। इससे टिशूज और मांसपेशियों में जान बनी रही है और अकड़न से बचाव होता है।

2. खीरा खाएं

खीरे की खास बात ये है कि ये पेट को ठंडा रखता है और आपको डिहाइड्रेशन से बचा सकता है। दूसरा, ये पानी से भरपूर है और शरीर में पानी की मात्रा बढ़ाकर व्रत के दौरान सिर दर्द और पैरों में अकड़न जैसी समस्या से बचा सकता है। ऐसे में हरितालिका तीज के दौरान सरगी में आप खीरा जरूर खाएं। इससे पेट भी सही रहेगा और काफी देर तक आप भर-भरा महसूस करेंगे।

3. अनानास लें

व्रत में अनानास फल खाना शरीर में एनर्जी बनाए रखने के साथ डिहाइड्रेशन से बचाव में मदद कर सकता है। इसके अलावा ये आपके बाकी बॉडी फंक्शन को बेहतर बनाता है और शरीर को कई समस्याओं से बचाव में मदद करता है। तो, डिहाइड्रेशन से बचाव के लिए आप हरितालिका तीज के व्रत में इन बातों का ध्यान रख सकते हैं। ऐसा करेंगे तो आपको 24 घंटे में शरीर पानी की कमी से बीमार नहीं होता और साथ ही आप इन व्रत को अच्छे से पूरा कर पाएंगे।

Share This: