Trending Nowशहर एवं राज्य

CRICKET NEWS : सरफराज खान को लेकर पिछले कुछ दिनों से बाज़ार गर्म, टेलेंट के बाद भी क्यों नहीं मिल रही टीम इंडिया में जगह ?

CRICKET NEWS: The market has been hot for Sarfaraz Khan for the last few days, why is he not getting a place in Team India even after talent?

भारतीय टीम अभी न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज खेल रही है, लेकिन हर किसी की नज़रें फरवरी में होने वाली ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज़ पर टिकी हैं. वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचने के लिए और बड़ी टीम से टक्कर के हिसाब से यह सीरीज़ काफी अहम होने जा रही है. टीम इंडिया में किसे मौका मिले और किसे नहीं, इसकी बहस भी छिड़ी हुई है. इस बीच 25 साल के सरफराज खान को लेकर पिछले कुछ दिनों से बाज़ार काफी गर्म है.

क्योंकि सरफराज खान ने घरेलू क्रिकेट में रनों का अंबार लगा दिया है, हर गुजरते दिन के साथ ये प्रेशर बढ़ रहा है कि सरफराज खान को टीम इंडिया में एंट्री क्यों नहीं मिल रही है. क्योंकि लगातार रन बनाने, बड़े स्कोर करने के पैमाने पर तो सरफराज खान खरे उतर रहे हैं. लेकिन उन्हें टीम इंडिया में एंट्री क्यों नहीं मिल रही है.

उम्र या फिटनेस तो नहीं है वजह?

सरफराज खान 25 साल के हैं, लेकिन उनका घरेलू क्रिकेट में रिकॉर्ड देखें तो ऐसा लगता है कि मानो वह लंबे वक्त से क्रिकेट खेल रहे हों. इतनी कम उम्र में भी वह शतकों की झड़ी लगा चुके हैं, लेकिन टीम इंडिया में मौका नहीं मिल रहा है. तर्क यह भी दिया जा रहा है कि अभी टीम इंडिया के मिडिल ऑर्डर के लिए उन्हें और तैयार होना होगा, लेकिन आंकड़े कुछ और गवाही देते हैं.

अगर तजुर्बा एक वजह है तो यह सरफराज के साथ नाइंसाफी होगा, क्योंकि उनसे कम उम्र के खिलाड़ी भी इस वक्त टीम इंडिया में खेल रहे हैं. शुभमन गिल, ऋषभ पंत, ईशान किशन जैसे प्लेयर भी इसी एज ग्रुप के हैं और टीम इंडिया की टेस्ट टीम में दस्तक दे रहे हैं. दूसरा एक तर्क फिटनेस को लेकर भी आता है, क्योंकि सरफराज खान का वजन ज्यादा है.

टीम इंडिया में हालिया वक्त में फिटनेस को लेकर काफी सख्ती बरती गई है, इनमें यो-यो टेस्ट जैसे फिटनेस टेस्ट भी शामिल किए गए हैं. कई एक्सपर्ट्स ने सलाह दी है कि सरफराज खान को अपनी फिटनेस पर काम करना चाहिए (जो वह कर भी रहे हैं), लेकिन अगर यह भी एक वजह है तो उनके परफॉर्मेंस पर इसका कोई असर नहीं दिखता है.

भारत के महानतम बल्लेबाजों में से एक सुनील गावस्कर भी इस बात का जिक्र कर चुके हैं, कि अगर आपको (सेलेक्टर्स) को कोई पतला दिखने वाला लड़का चाहिए तो किसी मॉडल को ढूंढिए. क्योंकि सरफराज खान तो अपने इसी हाल में रनों का पहाड़ बना रहे हैं.

रनों का अंबार, फिर टीम में जगह क्यों नहीं?

सरफराज खान के घरेलू क्रिकेट में आंकड़ों को देखें तो उन्होंने अभी तक 37 मैच की 54 पारियों में 3505 रन बनाए हैं. उनका औसत 79.65 का है, इस दौरान उनके बल्ले से 13 शतक, 9 अर्धशतक निकले हैं. सरफराज खान का उच्चतम स्कोर 301 नाबाद का है. कमाल की बात ये है कि पिछले तीन रणजी ट्रॉफी सीजन में उनका औसत 100 से ऊपर का ही रहा है.

सरफराज खान की पिछली कुछ पारियां

• बनाम दिल्ली- 125, 0
• बनाम असम- 28*
• बनाम तमिलनाडु- 162, 15*
• बनाम सौराष्ट्र- 75, 20
• बनाम हैदराबाद- 126*

अगर मौजूदा टीम इंडिया को देखें और सरफराज खान के लिए जगह की तलाश करें तो वह मिडिल ऑर्डर में फिट हो सकते हैं. सरफराज घरेलू क्रिकेट में भी मिडिल ऑर्डर में ही खेलते हैं. टीम इंडिया के स्टार विकेटकीपर ऋषभ पंत अभी चोटिल हैं, ऐसे में मिडिल ऑर्डर में सरफराज खान एक भरोसेमंद बल्लेबाज के रूप में जगह पा सकते हैं. जो बड़ी और लंबी पारी खेलने में सक्षम हैं, साथ ही टीम को मुश्किलों से भी निकाल सकते हैं.

 

 

 

 

 

 

Share This:
%d bloggers like this: