Trending Nowदेश दुनिया

UP के 62 जिलों से गुजरेगी कांग्रेस की ‘हम वचन निभाएंगे’ यात्रा, प्रियंका ही होंगी चेहरा : अक्टूबर में होगा आगाज

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले चुनावी दंगल को लेकर बिसात बिछ रही है। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी भले ही अभी किसी को सीएम के चेहरे के तोर पर प्रोजेक्ट नहीं कर रही है लेकिन अगले महीने से शुरू हो रही बहुप्रतिक्षित चुनावी यात्रा ‘हम वचन निभाएंगे’ में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ही चेहरा होंगी। इस यात्रा को लेकर कांग्रेस ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है और रोउमैप भी तैयार कर लिया है जिसकी मंजूरी प्रियंका ने दे दी है। 29 सितंबर को मेरठ रैली के बाद अगले महीने के प्रथम सप्ताह के आसपास इस चुनावी यात्रा का आगाज प्रियंका कर देंगी।

कांग्रेस के पदाधिकारियों की माने तो, इस अभियान के दौरान, पार्टी कृषि ऋण माफी, किसानों के लिए मुफ्त बिजली, आवारा जानवरों के कारण प्रभावित हुए लोगों के लिए मुआवजे, युवाओं के लिए नौकरी और महिला सुरक्षा सहित अन्य के अपने वादों को उजागर करेगी। हालांकि, पार्टी ने अभी तक अपना घोषणापत्र जारी नहीं किया है। वह वादों को पूरा करने में कथित विफलता के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार को निशाना बनाने की भी कोशिश करेगी। पार्टी पदाधिकारियों के अनुसार, अभियान की शुरुआत अक्टूबर में होगी, जिसका चेहरा कांग्रेस की यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा होंगी।
यूपी की 62 जिलों से होकर गुजरेगी यात्रा दरअसल, 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस सात सीटों पर सिमट गई थी। आने वाले चुनावों में, पार्टी के पास राज्य की प्रभारी प्रियंका के साथ अधिक दांव पर है। पार्टी पदाधिकारियों को उम्मीद है कि उनकी उपस्थिति से पार्टी को अपनी स्थिति सुधारने में मदद मिलेगी। हालांकि पार्टी के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कहा कि, ”यात्रा को पांच जोन- वाराणसी, झांसी, अयोध्या, आगरा और सहारनपुर में बांटा गया है। हम इस यात्रा में लगभग 62 जिलों को कवर करेंगे। यह इन जिलों के सभी ब्लॉकों और कई गांवों को मिलाकर 12,000 किमी का होगा। वर्तमान और पूर्व सांसद, विधायक और वरिष्ठ स्थानीय नेता अपने-अपने क्षेत्र के प्रत्येक ब्लॉक का दौरा करेंगे और चौपालों में जनता को संबोधित करेंगे।” यात्रा में सभी दिग्गज नेताओं को मिला टास्क पदाधिकारी ने कहा कि, ” हालांकि हमने अपना घोषणापत्र जारी नहीं किया है, हमने कुछ प्रमुख बिंदु तैयार किए हैं जो कृषि ऋण माफी, किसानों के लिए मुफ्त बिजली, आवारा जानवरों के कारण प्रभावित हुए लोगों के लिए मुआवजे के बारे में हैं। इसमें युवाओं के लिए रोजगार और महिला सुरक्षा के वादे भी शामिल हैं। प्रमोद तिवारी, राजेश मिश्रा, प्रदीप आदित्य जैन, इमरान मसूद और पी.एल. पुनिया के प्रियंका के साथ यात्रा का नेतृत्व करने की उम्मीद है। एक दूसरे पदाधिकारी ने कहा कि राज्य इकाई के प्रमुख अजय लल्लू और आराधना मिश्रा जैसे युवा नेताओं की भी महत्वपूर्ण भूमिका होगी।”
बेरोजगारी और भ्रष्टाचार समेत कइ मुद्दों पर रहेगा फोकस
+बढ़ती महंगाई, खराब स्वास्थ्य सेवाओं, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार और महिलाओं के खिलाफ अपराधों पर भी क्रिएटिव तैयार किए जाएंगे, नेता ने कहा, “32 साल यूपी बहल” (32 साल, यूपी बर्बाद) का संदेश दिया जाएगा।
पिछली समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और वर्तमान भाजपा सरकारों के कुशासन को निशाना बनाया जाएगा। टीम के सदस्य और पार्टी की यूपी इकाई के प्रवक्ता अंशु अवस्थी ने कहा कि, ”इस यात्रा के समन्वय के लिए पांच सदस्यीय मीडिया कम्युनिकेशन टीम बनाई गई है। यात्रा वादे न निभाने के लिए भाजपा सरकार का “उजागर” करेगी और हमारी पार्टी को एक विकल्प के रूप में पेश करेगी। उनके मुताबिक जनता सत्ताधारी बीजेपी से तंग आ चुकी है। अन्य विपक्षी दल जमीन पर इतने सक्रिय नहीं हैं। वर्तमान में हमारी पार्टी ही एकमात्र विकल्प है। यह यात्रा अक्टूबर में शुरू होगी जिसमें यूपी के सभी प्रमुख लोग मौजूद रहेंगे।”

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: