Trending Nowशहर एवं राज्य

निरीक्षण करने पहुंचे CMHO ने खुद किया मरीजों का इलाज; 2 डॉक्टर सहित 12 को नोटिस

बिलासपुर। बिलासपुर में बुधवार को CMHO डॉ. प्रमोद महाजन मस्तूरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण करने पहुंचे थे। वहां न डॉक्टर मिले और न स्टाफ। ऐसे में CMHO साहब खुद ही मरीजों का उपचार करने बैठ गए। सुबह 9 बजे की OPD में दोपहर 12 बजे तक भी कोई नहीं पहुंचा। ऐसे में 2 डॉक्टर सहित 12 स्टाफ को नोटिस देकर एक दिन का वेतन काटने का आदेश दिया गया है।

दरअसल, CMHO डॉ. प्रमोद महाजन अपने साथ अन्य अधिकारियों को लेकर सुबह निरीक्षण पर निकल गए। डॉ. महाजन और उनकी टीम सुबह साढ़े 11 बजे स्वास्थ्य केंद्र पहुंची। वहां तब तक डॉक्टर्स और स्टाफ कोई नहीं था। पूछताछ करने पर पता चला कि OPD सुबह 9 बजे खुल जाती है, लेकिन, डॉक्टर और स्टाफ नहीं पहुंचते। इसके चलते मरीज उनके इंतजार में बैठे रहते हैं।

दो दर्जन मरीजों का किया उपचार
डॉक्टर्स और स्टाफ के गायब रहने पर दर्जन भर से अधिक मरीज उनके आने का इंतजार कर रहे थे। इस दौरान डॉ. महाजन ने खुद मरीजों से पूछताछ कर उनका इलाज शुरू कर दिया। उन्होंने मरीजों की जांच कर आवश्यक दिशा-निर्देश के साथ ही दवाइयां भी दी।

सुबह साढ़े 11 बजे CMHO और स्वास्थ्य विभाग की टीम अस्पताल पहुंच गई। इस दौरान उनके निरीक्षण पर आने की खबर मिलते ही डॉक्टर्स और स्टाफ तक पहुंच गई। उन्हें जैसे ही खबर मिली कि CMHO दौरे पर हैं, तो दौड़ते भागते डॉक्टर्स और स्टाफ अस्पताल पहुंच गए। लेकिन, तब तक 12 बज गए थे। पूछताछ करने पर सभी अलग-अलग बहाना बनाते रहे।

इन्हें दिया गया नोटिस
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. प्रमोद महाजन ने विलंब से ड्यूटी पर पहुंचने वाले डॉ. अनिल कुमार, डॉ. पारूल जोगी, तापस विश्वास, ठाकुर प्रसाद मैत्री, कृष्ण कुमार भोई, राजेश साहू, रामायण प्रसाद साहू, एनएस भारद्वाज, संतोष प्रसाद, विनोदधर शर्मा, आईपी तिवारी, राकेश कुमार यादव को नोटिस थमाया और एक दिन की वेतन कटौती करने के निर्देश दिए हैं।

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: