Trending Nowशहर एवं राज्य

हरेली पर्व पर सीएम भूपेश बघेल ने कृषि उपकरणों और बैलगाड़ी की पूजा अर्चना की

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल किसानों और स्व सहायता समूह की बहनों के बीच पहुंचे है, वही हरेली पर्व के अवसर पर गौमाता, परंपरागत कृषि उपकरणों और बैलगाड़ी की पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख समृद्धि की कामना की. छत्तीसगढ़ में हरेली पर्व का विशेष महत्व है। यह पर्व छत्तीसगढ़ी संस्कृति और परंपरा के साथ पर्यावरण के महत्व को भी दर्शाता है। इस दिन किसान कृषि कार्य में उपयोग किए जाने वाले उपकरणों और औजारों की सफाई कर उनकी पूजा अर्चना करते हैं। कृषक परिवारों में तरह-तरह के छत्तीसगढ़ी व्यंजन बनाए जाते हैं। प्रदेश में नई सरकार बनने के बाद से हरेली पर्व को लेकर प्रदेशवासियों में उत्साह और बढ़ गया है। इसका कारण यह है कि राज्य सरकार ने हरेली पर्व से लोगों के जुड़ाव को देखते हुए इस दिन अवकाश की घोषणा कर दी है, ताकि लोग पूरे आनंद के साथ इस पर्व को मना सके और सरकार की मंशा के अनुरूप ऐसा हो भी रहा है। अब हरेली पर्व पर गांव की गलियों और चौपाल से लेकर शहरी क्षेत्रों में भी लोग परंपरा के अनुरूप नारियल फेंक प्रतियोगिता गेड़ी चढ़ते देखे जा सकते हैं, वहीं महिलाएं सुआ, कर्मा, ददरिया, फुगड़ी करते दिखती हैं।

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: