Trending Nowशहर एवं राज्य

सीएम भूपेश बघेल ने 1 लाख से ज्यादा युवाओं को वितरित किया बेरोजगारी भत्ता, विभिन्न पदों के लिए चयनित अभ्यर्थियों को दिया नियुक्ति पत्र

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शनिवार को रायपुर स्थिन निवास कार्यालय से छत्तीसगढ़ के 01 लाख 35 हजार 104 शिक्षित बेरोजगार हितग्राहियों को 35 करोड़ 48 लाख 7 हजार 500 रुपये का बेरोजगारी भत्ता सीधे उनके बैंक खातों में अंतरित किया. बेरोजगारी भत्ता योजना के अंतर्गत अभी तक 6 किस्तों में हितग्राहियों को 182 करोड़ 47 लाख 2 हजार 500 रुपये का बेरोजगारी भत्ता दिया जा चुका है.

बेरोजगारी भत्ता योजना के अंतर्गत अप्रेल महीने से अब तक 2 लाख 1 हजार 4 सौ 43 आवेदन प्राप्त हो चुके हैं. जिनमें से 94 फीसदी अर्थात 1 लाख 79 हजार 494 आवेदनों को स्वीकृति के लिए अनुशंसित कर दिया गया है. जबकि शेष 6 फीसदी अभ्यर्थी भौतिक सत्यापन में अनुपस्थित रहे हैं. बेरोजगारी भत्ता का लाभ लेने वाले अभ्यर्थियों में से 39 फीसदी महिलाएं हैं जबकि 83 फीसदी अभ्यर्थी ग्रामीण वर्ग से हैं.

मुख्यमंत्री ने युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि इस योजना का उद्देश्य शिक्षित बेरोजगारों को केवल आर्थिक संबल प्रदान करना भर नहीं है, बल्कि हमारा लक्ष्य उन्हें रोजगार और स्वरोजगार से जोड़ना भी है. उन्होंने कहा कि योजना के हितग्राहियों के लिए कौशल प्रशिक्षण की व्यवस्था भी की गई है, ताकि वे अपने कौशल को निखारते हुए रोजगार और स्वरोजगार के अवसरों का लाभ उठा सकें. मुख्यमंत्री ने युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि 6 महीने पहले जब ये योजना शुरू हुई थी तो कई लोगों के मन में शंकाएं थीं. हालांकि बेरोजगारी भत्ता योजना सफलतापूर्वक लागू हुई और आनलाइन माध्यम से बेरोजगारी भत्ता सीधे हितग्राहियों के खाते में पहुंच रहा है.

सीएम बघेल के निर्देशानुसार बेरोजगारी भत्ते के लिए चयनित अभ्यर्थियों को कौशल प्रशिक्षण भी प्रदान किया जा रहा है. अभी तक ऐसे 7 हजार 464 अभ्यर्थी प्रशिक्षित होकर रोजगार से जुड़ गए हैं जबकि 1 हजार 7 सौ 96 अभ्यर्थियों को प्रशिक्षण भी जल्दी ही शुरू हो जाएगा.

इस दौरान मुख्यमंत्री ने आईटीआई के 109 प्रशिक्षण अधिकारियों को नियुक्ति पत्र सौंपा. आईटीआई के प्रशिक्षण अधिकारी के कुल 920 पद विज्ञापित किए गए थे. जिनमें से 82 पदों के लिए पहले ही नियुक्ति पत्र जारी कर दिए गए हैं. इसी तरह से मुख्यमंत्री बघेल ने आज छात्रावास अधीक्षक के पद के लिए भी 6 अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र सौंपा.

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान वर्चुअल रूप से बस्तर एवं सरगुजा संभाग में शिक्षक और व्याख्याता के पद पर चयनित 2 हजार 161 अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र सौंपा. इनमें से 2 हजार 139 सहायक शिक्षक तथा 22 व्याख्याता हैं.

बेरोजगारी भत्ता वितरण और नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव आलोक शुक्ला, संचालक तकनीकी शिक्षण अवनीश शरण, संचालक लोक शिक्षण सुनील जैन समेत अन्य विभागीय अधिकारी और बेरोजगारी भत्ता योजना के हितग्राही उपस्थित थे.

Share This: