Trending Nowशहर एवं राज्य

स्मृति ईरानी के बयान CM बघेल का वार, कहा- उन्हें गांधी परिवार का फोबिया…!

रायपुर : लोगसभा में अभी अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा चल रही है। इस बीच बुधवार को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर फ्लाइंग किश करने का आरोप लगाया है। वही इस मामले में राजनीती भी अपने चरम पर है। इसी कड़ी में प्रदेश में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का बयान सामने आया है। सीएम बघेल ने पलटवार करते हुए कहा कि स्मृति ईरानी को गांधी परिवार और राहुल गांधी फोबिया हो गया है।स्मृति ईरानी ने सदन में छत्तीसगढ़ में आदिवासियों के विरोध के बावजूद अदानी को कोल ब्लाक देने को लेकर कटाक्ष किया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने अदानी या अन्य पॉवर प्लांटों को कोल ब्लॉक के लिए कोई जमीन नहीं दी। कोल ब्लॉक केंद्र सरकार आबंटित करती है।

सीएम ने स्मृति ईरानी पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हे गांधी परिवार का फोबिया हो गया है। कोयला खदान का आबंटन राजस्थान सरकार को किया गया। यहां महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, मध्यप्रदेश,आंध्रप्रदेश सरकार को कोल ब्लाक आबंटन का कार्य केंद्र सरकार ने किया है। यह मिथ्या ही आरोप है, हमने कोई जमीन नहीं दी है। जितने भी मेजर मिनरल हैं, केंद्र सरकार के अधीन हैं। पहले तो इसमें राज्य सरकार की सलाह भी ली जाती थी, मगर अब नया एमएमडीआर एक्ट आया है, इसके बाद सलाह लेने की भी जरूरत नहीं है।

सांसदों की दिल्ली में पीएम मोदी से मुलाकात पर बोले सीएम बघेल
छत्तीसगढ़ के सांसद और राष्ट्रीय पदाधिकारियों की दिल्ली में पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के साथ हुई बैठक को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तंज कसा है। बघेल ने कहा कि प्रधानमंत्री इतने दिनों तक छत्तीसगढ़ के सांसद से कभी नहीं मिले और अब जब चुनाव करीब आ रहे हैं तो मुलाकात कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री के मुताबिक छत्तीसगढ़ में बीजेपी की हालत बहुत खराब है। भारतीय जनता पार्टी में जब तक रमन सिंह रहेंगे तब तक बृजमोहन, प्रेमप्रकाश पांडेय, केदार कश्यप और सरोज पांडेय की दाल नहीं गलने वाली।

छत्तीसगढ़ में धीरे-धीरे खत्म हो रहा नक्सलवाद – CM
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि देश में नक्सलवाद खत्म हो चुका है लेकिन छत्तीसगढ़ के कुछ जिलों में ही बाकी है। जिसे लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का कहना है कि नक्सलवाद देश में सिमटा है और ये भी बात सही है कि नक्सलवाद का सबसे ज्यादा असर छत्तीसगढ़ में ही था लेकिन छत्तीसगढ़ में भी अब सिमट गया है और बहुत कम क्षेत्रों में रह गया है। सीएम ने कहा कि धीरे-धीरे नक्सलवाद खत्म हो रहा है।

Share This: