Trending Nowशहर एवं राज्य

CG BREAKING : दूसरों के बेटे के बारे में क्यों बोलते हैं, अपने बेटे के बारे में बताओ कि उसमें कौन सी योग्यता है – सीएम

CG BREAKING: Why talk about others’ son, tell about your son and what qualifications he has – CM

रायपुर। छत्तीसगढ़ में चुनाव भले की खत्म हो गया है, लेकिन राजेनाओं का एक-दूसरे पर वार-पलटवार का सिलसिला अभी भी जारी है। छत्तीसगढ़ के मुख्ययमंत्री भूपेश बघेल ने आज राजस्थान रवाना होने से पहले एयरपोर्ट पर मीडिया से चर्चा के दौरान अमित शाह के सोनिया गांधी अपने बेटे को पीएम बनाना चाहती है और सीएम गहलोत अपने बेटे को सीएम बनाना चाहते हैं… वाले बयान पर ने पलटवार किया। सीएम बघेल ने तंज कसते हुए कहा कि…“वो अपने बेटे के लिए सोच रहे हैं। उनके बेटे में कौन सी योग्यता है जिसे उन्होंने बीसीसीआई सचिव बनाकर रखा है। दूसरों के बेटे के बारे में क्यों बोलते हैं, अपने बेटे के बारे में बताओ कि उसमें कौन सी योग्यता है।”

छत्तीसगढ़ में चुनाव संपन्न होने के बाद अब राजस्थान में बीजेपी और कांग्रेस के बड़े नेता लगातार चुनावी रैलिया कर रहे है। राजस्थान में आज चुनाव प्रचार के आखिरी दिन मुख्यमंत्री भपूेश बघेल भी राजस्थान के लिए रवाना हुए। इस दौरान सीएम बघेल ने रायपुर एयरपोर्ट पर मीडिया से चर्चा भी की। चर्चा के दौरान सीएम बघेल से एक बार फिर प्रदेश में कांग्रेस की पूर्ण बहुमत से सरकार बनाने का दावा किया। वहीं पूर्व सीएम डाॅ.रमन सिंह के 52 से 55 सीट जीतने के दावे पर सीएम बघेल ने कहा कि जब उनकी लोकप्रियता चरम पर थी, तब वे 52 से 55 सीट के ऊपर नहीं पहुंचे, तो फिर अब कहां से ला पाएंगे। सीएम ने कहा कि रमन सिंह अपने कार्यकर्ताओं का ढांढस बंधाए रखने के लिए कह रहे हैं। ऐसा 3 दिसंबर तक कहते रहेंगे।

सीएम भूपेश बघेल ने डॉ. रमन सिंह के डीए बढ़ाए जाने के लिए पत्र लिखे जाने पर तंज कसते हुए कहा कि वे आज डीए बढ़ाने के लिए पत्र लिख रहे हैं। रेलवे के लिए पत्र क्यों नहीं लिखते हैं। इतनी ट्रेनें रद्द हो रही हैं, समय पर नहीं चल रही हैं। उन्होंने कहा कि रेलवे में नौकरी के लिए भी उन्हें पत्र लिखना चाहिए।वहीं केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के…”सोनिया गांधी अपने बेटे को पीएम बनाना चाहती है और सीएम गहलोत अपने बेटे को सीएम बनाना चाहते हैं”… बयान पर सीएम बघेल ने पलटवार किया। उन्होने कहा कि ….”वो अपने बेटे के लिए सोच रहे हैं। उनके बेटे में कौन सी योग्यता है जिसे उन्होंने बीसीसीआई सचिव बनाकर रखा है। दूसरों के बेटे के बारे में क्यों बोलते हैं, अपने बेटे के बारे में बताओ कि उसमें कौन सी योग्यता है।”

 

Share This: