Trending Nowशहर एवं राज्य

CG BREAKING : मंत्री कवासी लखमा का बड़ा बयान .. प्रदेश में दारू बंद करना एक बड़ी बेवकूफी

CG BREAKING: Big statement by Minister Kawasi Lakhma.. Banning liquor in the state is a big stupidity.

रायपुर। छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने कहा है कि प्रदेश में दारू बंद करना एक बड़ी बेवकूफी होगी। हालांकि इसे उन्होंने निजी राय बताया। लखमना कहा कि जब तक मैं सरकार में हूं तब तक शराबबंदी नहीं होने दूंगा। क्योंकि बिलासपुर और रायपुर में शराब के अभाव में नशीला पदार्थ पीकर 6-6 लोगों की मौत हुई है। हम नहीं चाहते हैं कि पूरे प्रदेश में भी ऐसे हालात बने।

आबकारी मंत्री रविवार को जगदलपुर पहुंचे थे। इसी दौरान उन्होंने कहा कि पूरे हिंदुस्तान में दारू बंद नहीं हो सकती। आंध्र-तेलंगाना हो या उत्तर भारत के प्रदेश, कोई भी शराब बंद करवाना नहीं चाहता है। बस्तर के लोग दारू कम पीते हैं। लेकिन हर तरह के रीति-रिवाज में दारू की परंपरा है।

सरकार नहीं करेगी शराबबंदी- लखमा

लखना ने कहा कि बस्तर में दारू पीने से किसी की मौत नहीं हुई है। बस्तर में 5वीं अनुसूची लागू है। सरकार भी कुछ नहीं कर सकती। जो फैसला होता है वो ग्राम सभा लेती है। इसलिए प्रदेश सरकार शराबबंदी नहीं करेगी।

आबकारी मंत्री पहले भी दे चुके हैं बयान

आबकारी मंत्री ने प्रदेश में शराबबंदी को लेकर पहली बार ऐसा बयान नहीं दिया है बल्कि इस तरह का बयान वो पहले भी कई बार दे चुके हैं। उन्होंने कहा था कि चाहे कुछ भी हो जाए प्रदेश में सरकार शराब बंद नहीं करेगी। इसकी बड़ी वजह उन्होंने कोरोना काल में शराब के अभाव में नशीली दवा पीकर लोगों की मौत होना बताया था।

हालांकि, बीजेपी लगातार प्रदेश सरकार की मंशा पर सवाल खड़े कर रही है। घोषणा पत्र में कांग्रेस ने तो शराबबंदी का वादा किया था, लेकिन सरकार बनने के बाद अब इन वादों पर अमल क्यों नहीं किया जा रहा है ? कुछ ही दिनों के बाद छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में शराबबंदी का मुद्दा फिर गरमाया गया है।

छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने कहा- मुझे आबकारी मंत्री बने 5 साल होने जा रहे हैं। जहां जाता हूं , शराब दुकान खोलने के आवेदन मिलते हैं। शराब दुकान बंद करने के आवेदन एक भी नहीं मिला। मीडिया की ओर से पूछे गए शराबबंदी के सवाल पर ये बात लखमा ने रायपुर में कहीं।

छत्तीसगढ़ में सुकमा जिले की 5 साल की छात्रा से दुष्कर्म के मामले ने अब सियासी तूल पकड़ लिया है। पूर्व मंत्री और BJP नेता केदार कश्यप के मुताबिक रेपिस्ट आबकारी मंत्री कवासी लखमा का खास है। उसे बचाने का प्रयास किया जा रहा है। थाने में अज्ञात आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। केदार के बयान से यह जाहिर हो रहा है कि BJP रेपिस्ट को जानती है। हालांकि, नाम का खुलासा नहीं किया गया है।

 

 

Share This: