Trending Nowशहर एवं राज्य

CG BIG NEWS : अमित शाह और रमन सिंह ने मिनरल वाटर से साफ किया तिलक .. देखें वीडियो

CG BIG NEWS: Amit Shah and Raman Singh cleaned the tilak with mineral water.. watch video

रायपुर। छत्तीसगढ़ में 7 और 17 नवंबर को दो चरणों में मतदान होना है। पहले चरण में 20 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे वहीं दूसरे चरण में 70 सीटों पर मतदान होगा। पहले चरण के मतदान के लिए 13 अक्टूबर से नामांकन शुरु हो गया है। छत्तीसगढ़ में दोनों ही प्रमुख पार्टी बीजेपी और कांग्रेस हिन्दुत्व कार्ड खेल रही हैं और एक दूसरे को हिन्दू विरोधी बताए जाने की होड़ मोच गई है।

16 अक्टूबर को रमन सिंह की नामांकन रैली में शामिल होने आए अमित शाह ने राजनांदगांव में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस को हिन्दू विरोधी बताया था। शाह ने बिरनपुर में दो समुदायों के बीच हुई हिंसा के मामले में प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि भूपेश सरकार ने तुष्टिकरण और वोट बैंक की राजनीति के लिए छत्तीसगढ़ के बेटे भुवनेश्वर साहू की लिंचिंग करवाकर हत्या करवा दिया। शाह यहीं नहीं रुके उऩ्होंने आगे कहा कि हम भुनेश्वर के हत्यारों को उनके अंजाम तक पहुंचाएंगे और इसके प्रतीक के रूप में उनके पिता ईश्वर साहू को चुनाव मैदान में उतारा है।

एक्स पर वीडियो किया शेयर –

दूसरे दिन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी राजनांदगांव जिले पहुंचे और डोंगरगढ़ में पोते का मुंडन करवाने के बाद मां बम्लेश्वरी का परिवार सहित दर्शन किया। सीएम ने अपने एक्स (X) अकाउंट पर वीडियो शेयर किया।

साफ्ट हिन्दुत्व पर चल रही कांग्रेस सरकार के मुखिया भूपेश बघेल ने भी हिन्दुत्व के उसी मैदान में शाह और रमन सिंह को पटखनी देने के लिए डोंगरगढ़ का ही एक पुराना वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में रमन सिंह और अमित शाह को डोंगरगढ़ के प्रसिद्ध मां बम्लेश्वरी के मंदिर में दर्शन करते दिखाया गया है। वहीं बाद में एक जनसभा के दौरान माथे पर लगा तिलक को दोनों पोछते नजर आ रहे हैं।

एक्स (X) पर इस वीडियो शेयर करते हुए बघेल ने लिखा, “नवरात्रि के दिनों में तो दूर-दूर से लोग मां बम्लेश्वरी के दर्शन को आते है। प्रदेश के भाजपा नेताओं ने या तो कहा नहीं, या श्री अमित शाह जी ने सुना नहीं, जो भी हो, राजनांदगांव में होते हुए मां बम्लेश्वरी जी के दर्शन करने जरूर जाना चाहिए था। माता सबको आशीर्वाद देती हैं। पिछली बार जब आप गए थे तो आपने और पूर्व मुख्यमंत्री जी ने मां बम्लेश्वरी मंदिर के तिलक को मिनरल वॉटर से साफ़ किया था। अगर उसका भी प्रायश्चित करना हो तो भी आप जाकर माफी मांग सकते थे, मां माफ कर देती। अगली बार जब आइएगा, तो मंदिर जरूर जाइएगा।”

 

 

 

Share This: