Trending Nowशहर एवं राज्य

BREAKING NEWS : विधायक टी. राजा सिंह गिरफ्तार फिर एक बार, रिहाई पर हुआ था विवाद, पैगंबर पर विवादित टिप्पणी से बवाल

BREAKING NEWS: MLA T. Raja Singh arrested once again, there was controversy over release, ruckus over controversial remarks on Prophet

डेस्क। हैदराबाद में टी राजा सिंह को एक बार फिर गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस उन्हें अपने साथ ले गई। यह गिरफ्तारी राम नवमी के दौरान एफआईआर पर गिरफ्तारी की गई है। इससे पहले बीजेपी के निलंबित विधायक टी राजा सिंह की पैगंबर मोहम्मद को लेकर की गई कथित आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर गिरफ्तार किया था। लेकिन उसे एक दिन बाद जमानत पर रिहा कर दिया गया था।

राजा सिंह ने स्टैंड-अप कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी और धर्म विशेष की आलोचना करते हुए सोमवार को एक वीडियो जारी किया था। वीडियो में सिंह कथित तौर पर धर्म के खिलाफ कुछ टिप्पणी करते दिख रहे हैं। वीडियो सोशल मीडिया मंचों पर प्रसारित होने के बाद पुलिस ने उन्हें मामले में गिरफ्तार कर लिया था। हालांकि, बाद में एक स्थानीय अदालत ने उन्हें जमानत दे दी थी।

गौर हो कि टी राजा सिंह की गिरफ्तारी की मांग करते हुए एआईएमआईएम के प्रमुख असददुद्दीन ओवैसी ने गुरुवार को कहा कि हैदराबाद के कुछ हिस्सों में हुआ प्रदर्शन सीधे तौर पर भाजपा नेता के कथित नफरत फैलाने वाले भाषण का नतीजा है। ट्विटर पर ओवैसी ने कहा कि पुलिस ने बुधवार को शाह अली बांदा इलाके से 90 लोगों को हिरासत में लिया था और उनके दखल के बाद हिरासत में लिए गए लोगों को रिहा किया गया।

हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने ट्विटर पर कहा था कि यह स्थिति राजा सिंह के नफरत फैलाने वाले भाषण का सीधा नतीजा है। उन्हें जल्द से जल्द जेल भेजा जाना चाहिए। मैं फिर से शांति बनाए रखने की अपनी अपील दोहराता हूं। हैदराबाद हमारा घर है, इसे सांप्रदायिकता का शिकार नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि एआईएमआईएम विधायक अहमद बिन अब्दुल्ला बलाला और ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम में पार्टी के पार्षद तनाव कम करने के लिए पूरी रात काम करते रहे।

शहर के कुछ संवेदनशील इलाकों में राजा सिंह के खिलाफ प्रदर्शन की छिटपुट घटनाएं हुई हैं। सिंह को एक वीडियो में इस्लाम और पैगंबर मोहम्मद के बारे में कथित टिप्पणी करने के लिए 23 अगस्त को गिरफ्तार किया गया था। इस वीडियो को बाद में सोशल मीडिया मंचों ने हटा दिया था। सिंह को एक स्थानीय अदालत ने जमानत दे दी थी। अदालत से उन्हें जमानत मिलने के बाद शहर के कुछ हिस्सों में विरोध प्रदर्शन हुए जो बुधवार दोपहर तक चले।

Share This: