Trending Nowशहर एवं राज्य

छत्तीसगढ़ को अपराध गढ़ बोलकर भाजपा ने छत्तीसगढ़ महतारी का अपमान किया : कांग्रेस

रायपुर । प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि पूर्व नेता प्रतिपक्ष एवं विधायक धरमलाल कौशिक ने छत्तीसगढ़ को अपराधगढ़ बोलकर छत्तीसगढ़ महतारी और 3 करोड़ जनता का अपमान किया है। धरमलाल कौशिक को अपने इस वक्तव्य के लिए छत्तीसगढ़ महतारी पूरे प्रदेश से माफी मांगनी चाहिए। कुछ एक आपराधिक घटनाओं के चलते प्रदेश के संभ्रांत सुशिक्षित किसान युवा मजदूर माता और बहनों को भाजपा अपराधी कैसे घोषित कर सकती है? अगर भाजपा छत्तीसगढ़ को अपराध गढ़ कहती है इसका मतलब क्या  प्रदेश में रहने वालों को भाजपा अपराधी घोषित कर रही है धरम लाल कौशिक भी खुद को अपराधी मानते हैं बेहद निंदनीय है आपराधिक मामलों में  बयान बाजी देते समय जनमानस की भावनाओं का भी ख्याल रखना चाहिए।

प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि मोदी सरकार के द्वारा जारी एनसीआरबी की रिपोर्ट सच्चाई बयां कर रही है पूर्व के रमन भाजपा सरकार के दौरान हत्या, बलात्कार, लूटपाट, डैकती, नक्सली घटनाएं नकबजनी अपहरण, संगठित अपराध, सुपारी किलिंग और तस्करी की जो घटनाएं होती थी उसमे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा सख्त की गई कानून व्यवस्था अपराधियों की धरपकड़ मजबूत पुलिसिंग के चलते अपराधिक घटनाओं 50 प्रतिशत से अधिक की कमी हुई है। महिला के विरूद्ध घटित अपराध में छत्तीसगढ़ की स्थिति राष्ट्रीय स्तर पर 18वें स्थान पर है। राष्ट्रीय स्तर पर प्रति लाख आबादी पर महिला के विरूद्ध घटित अपराध की दर 63.3 है। जबकि छत्तीसगढ़ राज्य में प्रति लाख आबादी पर महिला के विरूद्ध घटित अपराध की दर 49.8 है। तेलंगाना, मध्यप्रदेश, असम, उड़िसा, महाराष्ट्र, उत्तराखंड, उत्तरप्रदेश आदि राज्यों में प्रति लाख आबादी पर घटित महिला अपराध छत्तीसगढ़ से अधिक है। छत्तीसगढ़ में वर्ष 2021 में 1093 बलात्कार के अपराध घटित हुये है। जो विगत वर्ष की तुलना में 9.6 प्रतिशत कम है। प्रति लाख आबादी में घटित होने वाले अपराध की घटनाओं में हरियाणा, असम, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा आदि राज्यों में उक्त अपराध की दर छत्तीसगढ़ से अधिक है। छत्तीसगढ़ में महिला सुरक्षा पर किये गये प्रयास का परिणाम ही है कि जहां वर्ष 2018 में प्रति लाख आबादी में घटित होने वाले बलात्कार अपराध में छत्तीसगढ़ प्रथम स्थान पर, वर्ष 2017 में दूसरे स्थान पर था, जबकि वर्ष 2021 में इस अपराध में प्रभावी नियंत्रण होने के फलस्वरूप छत्तीसगढ़ 9वें स्थान पर है। इस अपराध में प्रति लाखा आबादी पर घटित होने वाले अपराधों में छत्तीसगढ़ 15वें स्थान पर है। उक्त अपराध का राष्ट्रीय औसत प्रति लाख आबादी में जहां 13.2 है, वहीं छत्तीसगढ़ में यह अपराध प्रति लाख आबादी में 8.5 है। विगत वर्ष की तुलना में उक्त अपराध में 14.5 प्रतिशत की कमी आयी है।

उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ भाजपा नेता झूठ बोलकर एनसीआरबी रिपोर्ट को खारिज नहीं कर सकते एनसीआरबी की रिपोर्ट बता रही है गैंग रेप, रेप के बाद हत्या के मामले में उत्तर प्रदेश देश में नंबर वन है असम नंबर दो पर है मध्य प्रदेश नंबर तीन पर हैं और महाराष्ट्र चौथे नंबर पर हैं। बच्चियों के साथ रेप की घटना के मामले में मध्य प्रदेश नंबर वन है उत्तर प्रदेश दूसरे नंबर पर हैं महिलाओं के साथ घटित अपराध में उत्तर प्रदेश नंबर वन पर मध्यप्रदेश नम्बर दो महाराष्ट्र तीन नंबर पर पश्चिम बंगाल चार नंबर पर उड़ीसा पांच नंबर पर है दहेज हत्या के मामले में उत्तर प्रदेश नंबर वन विहार नंबर 2 मध्यप्रदेश नंबर 3 पश्चिम बंगाल नंबर 4 पर है यूपी में रोज 153 महिलाओं के साथ हिंसा होती है उत्तर प्रदेश में अपराधिक घटनाओं में 13.5 प्रतिशत का इजाफा हुआ है इसके पश्चात महाराष्ट्र पश्चिम बंगाल और उड़ीसा का नंबर आता है यूपी में अपहरण के मामले में 19.9 प्रतिशत की वृद्धि हुई है उसके बाद महाराष्ट्र बिहार मध्य प्रदेश और पश्चिम बंगाल का नंबर आता है।

Share This: