Trending Nowशहर एवं राज्य

अमित शाह का मिशन फतह ‘छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश‘

रायपुर। मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में भाजपा की जीत के प्रमुख कारणों में से एक केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की रणनीति रही है। लोकसभा चुनाव से पहले केंद्रीय गृहमंत्री शाह ने इन दोनों राज्यों की चुनावी कमान संभालते हुए मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में फतह का मिशन शुरू कर दिया है। विधानसभा चुनाव में भाजपा ने दोनों राज्यों में बड़ी सफलता हासिल की। मध्य प्रदेश में जहां भाजपा ने सत्ता अपने हाथ में रखी, तो वही छत्तीसगढ़ में कांग्रेस से इसे छीन लिया। विधानसभा चुनाव की कमान पूरी तरह केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने संभाल रखी थी और उनकी व्यूह रचना के चलते ही भाजपा को बड़ी जीत मिली।लोकसभा चुनाव करीब हैं और भाजपा ने मध्य प्रदेश की 29 और छत्तीसगढ़ की सभी 11 सीटों पर जीत हासिल करने का लक्ष्य तय किया है। केंद्रीय गृहमंत्री शाह गुरुवार को छत्तीसगढ़ के प्रवास पर रहे। उन्होंने बस्तर क्लस्टर के कोंडागांव में बैठक की और जांजगीर चांपा में जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने यहां भाजपा कार्यकर्ताओं को सभी 11 सीटों को जीतने का संकल्प दिलाया । पिछले चुनाव में भाजपा ने नौ और कांग्रेस ने दो सीटों पर जीत दर्ज की थी।
अमित शाह अब 25 फरवरी को मध्य प्रदेश के प्रवास पर आने वाले हैं। उनके ग्वालियर-चंबल, बुंदेलखंड और भोपाल में कार्यक्रम प्रस्तावित है। राज्य की 29 सीटों में से 28 सीटें भाजपा के कब्जे में है और एकमात्र सीट छिंदवाड़ा पर कांग्रेस का कब्जा है। भाजपा आगामी चुनाव में सभी सीटों पर कब्जा जमाना चाहती है। लिहाजा उसी की रणनीति के तहत अमित शाह का मध्य प्रदेश दौरा हो रहा है। राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि राज्य में राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा के आने से पहले केंद्रीय मंत्री अमित शाह का दौरा राजनीतिक तौर पर काफी अहम है।

Share This: