Trending Nowक्राइम

साइबर सेल ने किया रैकेट का भंडाफोड़: 8 लड़कियां कॉल कर मर्दों का बढ़ाती थीं उत्तेजना, सेक्स पावर की गोलियां और स्प्रे बरामद, 2021 से चल रहा था फर्जी कॉल सेंटर

दिल्ली : राजधानी दिल्ली के रोहिणी इलाके में साइबर सेल ने एक ऐसे रैकेट का भंडाफोड़ किया है. साइबर पुलिस ने “इंडियन जिगोलो” (Gigolo racket) के नाम से चल रहे एक फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया है. फर्जी कॉल सेंटर मालिक ने जिगोलो के नाम पर लाखों रुपये ठगने की साजिश रची.

इतना ही नहीं कई लोगों को अपने जाल में फंसाया. 8 लड़कियों को अपने झांसे में लेकर लोगों को चूना लगाने का काम करते थे, लेकिन पुलिस की नजर से ज्यादा दिन तक बच नहीं सके. फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश हो गया.

मिली जानकारी के मुताबिक इंडियन जिगोलो के नाम से 50 से ज्यादा लोगों को ये चूना लगा चुके हैं. 8 लड़कियां कॉल सेंटर से लोगों को कॉल करती थीं. उतना ही नहीं मर्दों का उत्तेजना बढ़ाने का काम भी करती थीं. साजिश के तहत रैनडम नंबर्स पर कॉल करके भुगतान करने के लिए कहती थीं.

पुलिस को मौके से 12 कीपैड फोन, एक एंड्रॉइड फोन और 16 नोट बुक्स मिले हैं. पुलिस ने 5, 67740 रुपये की राशि वाले पेटीएम खाते को फ्रीज कर दिया है. यौन शक्ति बढ़ाने वाली गोलियां और स्प्रे बरामद किए गए हैं.

2021 से चल रहा था फर्जी कॉल सेंटर
कॉल सेंटर के मालिक मेहताब निवासी अमन विहार दिल्ली मास्टरमाइंड है. उसने 8 लड़कियों को काम पर रखा था, जो कॉल करती थीं और लोगों को अपने जाल में फंसाती थीं. जुलाई 2021 से इस फर्जी कॉल सेंटर को चलाया जा रहा था और पूरे भारत में कई लोगों को ठगा जा रहा था.

आरोपी दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट
आरोपी मेहताब दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट है. उसने दिल्ली विश्वविद्यालय से पोस्ट ग्रेजुएशन के दौरान अपनी पढ़ाई छोड़ दी. खुद को यूपीएससी परीक्षाओं की तैयारी में लगा दिया. कुछ कॉल सेंटरों में काम किया.

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: