Trending Nowशहर एवं राज्य

धरना गाइड लाइन पर कांग्रेस की सफाई : मरकाम बोले- किसी शांतिपूर्ण संवैधानिक आंदोलन पर रोक नहीं, भाजपा भ्रम फैला रही

रायपुर। बुधवार को रायपुर के राजीव भवन, कांग्रेस दफ्तर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस हुई। इसे पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने संबोधित करते हुए कहा कि हम स्पष्ट कर देना चाहते है कि छत्तीसगढ़ में किसी भी प्रकार के शांतिपूर्ण संवैधानिक धरना, प्रदर्शन, आंदोलन, धार्मिक आयोजन पर रोक नहीं लगाई गई है। इसे लेकर भाजपा भ्रम और झूठ फैलाने का काम कर रही है।

मरकाम ने आगे कहा कि हमारी सरकार ने धरना, प्रदर्शन, आंदोलन, सार्वजनिक आयोजन के संबंध में जो निर्देश जारी किये है वह नये नहीं है इस प्रदेश में पहले से लागू है। पिछले कुछ दशकों से लागू है। पूर्ववर्ती रमन सरकार के समय से लागू है। आयोजनों के दौरान शांति एवं व्यवस्था बनाये रखने के लिये पूर्ववत बने नियमों के पालन की ही बात है इस निर्देश में है।

मरकाम ने भाजपा को घेरते हुए कहा कि दरअसल भारतीय जनता पार्टी का चरित्र अलोकतांत्रिक हो गया। संवैधानिक मूल्य, संवैधानिक संस्थानों की अवहेलना करते-करते भाजपा अब नियमों कानूनों की व्याख्या भी अपनी सुविधा के अनुसार करने लगी है। रमन सरकार ने तो बारात निकालने, डीजे बजाने और अखंड रामायण के लिये भी अनुमति लेने का नियम बनाया था।

छत्तीसगढ़ के गृह विभाग ने आंदोलन, धरना जुलूस, सार्वजनिक और धार्मिक कार्यक्रमों को लेकर एक गाइडलाइन जारी की है। इसमें 11 सवालों के जवाब और 22 नियमों के कॉलम का पालन करने को कहा गया है। इसे लेकर एक दिन पहले ही हुई भाजपा की कोर ग्रुप की बैठक में तय किया गया है कि यदि इन नियमों को वापस नहीं लिया गया तो भाजपा पूरे प्रदेश में आंदोलन करेगी। इसी के जवाब में कांग्रेस ने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा को घेरा।

 

Share This:

Leave a Response

%d bloggers like this: