Input your search keywords and press Enter.

एक लाख 2 हजार के नकली नोट के साथ 2 सरकारी कर्मचारी गिरफ्तार, एक आरोपी फरार, पामगढ़ पुलिस की कार्रवाई

जांजगीर चाम्पा। यू-ट्यूब से देखकर कम वक्त में बड़ा आदमी बनने की फिराक में नकली नोट छापने वाले दो सरकारी कर्मचारी आरोपी संजय देवांगन और धनीराम को पामगढ़ पुलिस ने 1 लाख 2 हजार के नकली नोट के साथ गिरफ्तार किया है. जब्त नकली नोट में 5 सौ, 2 सौ और 50 रुपये हैं. मामले में 1 आरोपी ऋषि देवांगन फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है.
पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि एक आरोपी कर्मचारी, एडीजे कोर्ट में पोस्टेड है तो दूसरा स्वास्थ्य विभाग में वार्ड ब्वाय के रूप में कार्यरत है. सरकारी स्कूलों कर्मचारी होने और बेहतर जीवन यापन का साधन होने के बावजूद इन दोदों ने आसान तरीके से बड़ा आदमी बनने की चाहत पाली और नकली नोट छापने के धंधे में संलिप्त हो गए और खपाने की फिराक में पकड़े गए.
पुलिस को बताया कि आरोपियों ने यू-ट्यूब से नकली नोट छापने का आसान तरीका सीखा और घर पर ही लेपटॉप और प्रिंटर की मदद से नोट छापने लगे, मगर अपराध कहां छिपता है. पुलिस ने पहले तहसील कार्यालय पामगढ़ के पास नोट खपाने की फिराक में घूम रहे एडीजे कोर्ट के कर्मचारी आरोपी धनीराम को नकली नोट के साथ पकड़ा, फिर उसकी निशानदेही पर घेराबंदी कर आरोपी वार्ड व्वाय संजय देवांगन को गिरफ्तार किया, वहीं एक अन्य आरोपी ऋषि देवांगन की तलाश की जा रही है, जो कि प्रिंटिंग का उस्ताद बताया जा रहा है. गिरफ्तार दोनों आरोपियों को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है.





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *