Input your search keywords and press Enter.

वन-विकास-निगम की उड़नदस्ता टीम ने,,फिल्मी-अंदाज में पीछाकर सागौन से भरी पिकप वाहन को पकड़ा

करगीरोड-कोटा| वन विभाग के जंगलों में इमरती लकड़ी के चोरों व तस्करों का आतंक लगातार जंगलों में दिखाई पड़ रहा है, लगातार शिवतरई के जंगलों से इमरती लकड़ियों की अवैध-कटाई की सूचना मिलने पर वन-विकास निगम की उड़नदस्ता टीम ने पिछले कई दिनों से शिवतरई के जंगलों में डेरा डाल रखा था जंगलों में लगातार उड़नदस्ता टीम गश्त कर रही थी, इसी बीच शनिवार की रात को वन-विकास-निगम की उड़न दस्ता टीम द्वारा द्वारा सागौन लकड़ी से भरी पिकप को फिल्मी-अंदाज में पीछा करते हुए जंगलों के बीच में ही पकड़ लिया, सागौन के गोलों से भरी महिंद्रा-वाहन पिकप-क्रमांक CG-11-AB-0686 को वन विकास-निगम के उड़नदस्ता टीम ने पकड़कर अपने कब्जे में ले लिया, वाहन चालक डर के मारे पिकप-वाहन को मौके पर ही छोड़कर फरार हो गया उड़नदस्ता टीम के अधिकारी और कर्मचारियों की टीम द्वारा वाहन को जप्त करते हुए वन विकास-निगम के डिपो में ले जाया गया, जहां पर पिकप वाहन को वन-अधिनियम के तहत राजसात करने की दिशा में कार्रवाई तेज कर दी गई, पिकप वाहन में लगभग डेढ़ धन मीटर सागौन के गोले रखे हुए थे, जिसकी अनुमानित कीमत लगभग 75 हजार रुपए बताई जा रही है,अधिकारियों द्वारा।*

 


वन-विभाग के जंगलों में इन दिनों इमरती लकडी के चोर और तस्करों द्वारा लकड़ियों की अवैध कटाई की जा रही है, साथ ही जंगलों में हाईटेंशन तार बिछाकर जंगली-जानवरों का शिकार करने की भी सूचना लगातार सूत्रों के हवाले से सामने आ रही है, लगातार वन-विभाग, वन-विकास निगम के अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा उड़नदस्ता टीम बनाकर जंगलों में गस्त की जा रही है, उसके बावजूद भी सागौन,सराई,बीजा जैसे लकड़ियों की अवैध कटाई पर अंकुश नहीं लग रहा है, लकड़ी चोरों और तस्करों के हौसले दिन-प्रतिदिन बुलंद होते जा रहे हैं, उसी कड़ी में शिवतरई के जंगलों में सागौन से भरी पिकअप जिसमें की सागौन पेड़ के 27 से 28 गोले की तस्करी की जा रही थी, लकड़ी चोर और तस्करों ने सागौन के पेड़ों को इतनी सफाई से काटकर रखा हुआ था, जैसे कि आरा-मशीनों में लकड़ियों को काटा जाता है, ठीक उसी तरह से जंगलों के अंदर भी चोरों द्वारा लकड़ियों को काटा जा रहा है, इमरती-लकड़ियों की इतने बड़े पैमाने पर तस्करी स्थानिय लोगो के संलिप्ता के बगैर नही हो सकता, जिस प्रकार पिकअप वाहन को वन विकास-निगम के उड़नदस्ता टीम ने पीछा कर पकड़ी है वाहन का रजिस्ट्रेशन नंबर जांजगीर का है, पर पिकप वाहन कोटा के लखोदना ग्राम की बताई जा रही है, फिलहाल इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए वन-विकास-निगम के रेंजर अभिनंदन-गोस्वामी द्वारा बताया गया, कि वाहन मालिक और वाहन चालक की पतासाजी की जा रही है, जिसके बाद वन-अधिनियम के तहत वाहन मालिक व वाहन चालक पर कार्रवाई करते हुए को पिकप-वाहन को राजसात करने की कार्रवाई की जाएगी।

 


सागौन-लकड़ी से भरी पिकप वाहन के पकड़ाए जाने के बाद फिरंगीपारा निवासी टीका साहू द्वारा इस बात की आशंका व्यक्त की जा रही है कि पिछले दिनों उनके फॉर्म हाउस से भी सागौन की लकड़ी चोरी की गई थी लकड़ी-चोरों द्वारा उनके फार्म हाउस से सागौन के पेड़ काटकर चोरों द्वारा ले गए थे, जिसकी सूचना उन्होंने कोटा थाना और फारेस्ट विभाग को लिखित में दिया था, होली के पूर्व ही कोटा के और भी लोगों के खेत से और फार्म-हाउस से लगभग 20 से 30 सागौन पेड़ लकड़ी चोरों द्वारा काटकर ले जाया गया था, ऐसे में इन लोगों ने भी इस बात की आशंका जताई है, की फॉरेस्ट विभाग द्वारा पकड़ी गई पिकप के चालक और मालिक के द्वारा ही हमारे यहां से भी सागौन के पेड़ को काटकर ले जाया गया है, फिलहाल इस पूरे मामले पर पीड़ित लोगों ने वन-विकास-निगम के अधिकारियों से बात करने की बात कही है, साथ ही पिकप वाहन मालिक व वाहन चालक सहित लकड़ी चोरों के नाम भी जल्द ही सामने आने की बात पीड़ितों द्वारा कही गई है।





Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *