Input your search keywords and press Enter.

महिलाओं के दम पर बनेगी छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार-सुष्मिता देव

रायपुर । अखिल भारतीय कांग्रेस की अध्यक्षा सुश्री सुष्मिता देव दो दिवसीय छत्तीसगढ़ दौरे पर है। रायपुर विमानतल आगमन पर छत्तीसगढ़ महिला कांग्रेस ने भव्य स्वागत किया। भारतीय संस्कृति के अनुरूप तिलक लगाकर फूलमाला से आत्मीय स्वागत किया। महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव दोपहर 01.00 बजे महिला कार्यकर्ता  सम्मेलन में शिरकत करने पिथौरा जिला-महासमुंद पहुंची। राष्ट्रीय महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुष्मिता देव ने विशाल सभा को संबोधित करते हुये कहा कि छत्तीसगढ़ आगमन पर अथाह सम्मान और प्यार मिला है।  प्रधानमंत्री नरेन्द्र  मोदी ने 2014 लोकसभा चुनाव के दरमियान करीब 400-500 सभायें की थी और कहा था कि सरकार भारतीय जनता पार्टी की बनती है तो विदेशो से कालाधन वापस लायेंगे और सभी भारतीय के खाते में 15-15 लाख दिये जायेंगे। मंहगाई कम करने की बात, बेरोजगारी दूर कर रोजगार देने की बात की थी। लगभग 4 वर्ष बीतने को है लेकिन वायदे के अनुसार अब तक कुछ भी नहीं किया गया। उज्जवला गैस योजना के नाम पर गरीबो को धोखा दिया जा रहा है। एक सिलेंडर के पश्चात दूसरे सिलेंडर के दाम 810 रू. से खरीद पाना गरीबो के बस में नहीं, परंतु मोदी सरकार गरीबो की गरीबी का मजाक उड़ा रहे है। कांग्रेस पार्टी ने हमेशा ही महिलाओं का सम्मान किया है। महिलाओं को सशक्त बनाने के लिये 35 प्रतिशत का आरक्षण देकर देश में व्याप्त भेद-भाव दूर करने का कार्य किया है। देश में नारी सम्मान बना रहे कांग्रेस ने राष्ट्रपति के रूप में (श्रीमति प्रतिभा पाटिल) लोकसभा स्पीकर रूप में ( श्रीमति मीरा कुमार) की तरह अनेको उच्चपदों पर महिलाओं को सम्मान देने का कार्य किया है। भाजपा और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश को जुमलेबाजी के अलावा कुछ नहीं दे रहे है। नोटबंदी करके महिलाओं का सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाया गया है उसका बदला महिलायें 2019 में अवश्य लेंगी। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने सभा को संबोधित करते हुये कहा है कि छत्तीसगढ़ में महिला अत्याचार की घटनायें लगातार बढ़ी है। प्रदेश से 27 हजार महिलायें लापता है, झलियामारी में बच्चों के साथ अनाचार, नसंबदी कांड में महिलाओं की मौत, गर्भाशय कांड, आंखफोड़वा कांड प्रदेश के माथे पर कलंक है। छत्तीसगढ़ में चुनाव पूर्व रमन सरकार महिलाओं के नाम पर राशन कार्ड बहनों के नाम संबोधित कर बनाती है और प्रत्येक परिवार को 35 किलो चावल देने की बात करती है। चुनाव समाप्त होने के पश्चात ही सत्यापन के नाम पर उन्हीं बहनों के राशन कार्ड काट देती है और 35 किलो आनज की जगह 7 किलो प्रति व्यक्ति कर दिया जाता है। उज्जवला गैस योजना के नाम पर प्रदेश की महिलाओं के सम्मान को ठेस पहुंचाने का कार्य कर रही है।  शराबबंदी के नाम पर सरकार स्वंय शराब बेचने लगी है, शराब के अधिक सेवन से अनेको घर बर्बाद हुये है जिसका खामियाजा महिलाओं को ही भुगतना पड़ रहा है। चाउर वाले बाबा से अब दारू वाले बाबा बन चुके है।राज्यसभा सदस्य छाया वर्मा ने सभा को संबोधित करते हुये कहा कि आप लोगो का उत्साह देखते ही बनता है इतनी भीड़, जनसैलाब दर्शाता है कि आप लोगो का कांग्रेस से कितना लगाव है।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *