Trending Nowशहर एवं राज्य

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कांग्रेस से पूछ रही हैं, वादे का क्या हुआ- रंजना

आक्रोश के साथ हक की लड़ाई लड़ रही बहनों को भाजपा का समर्थन

रायपुर। छत्तीसगढ़ भाजपा प्रदेश प्रवक्ता व विधायक रंजना साहू ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिकाओं के आंदोलन के संदर्भ में कांग्रेस सरकार पर वादाखिलाफी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इस सरकार ने सभी वर्गों, खासकर महिलाओं के साथ विश्वासघात किया है। महिला स्व सहायता समूह की बहनें कर्ज माफी का वादा पूरा होने का इंतजार कर रही हैं और अब इस सरकार की विदाई का वक्त आ गया है। इसी तरह शराबबंदी लागू होने का वादा पूरा नहीं होगा, यह भी महिलाएं समझ चुकी हैं। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और सहायिका बहनों को अपने हक के लिए चार साल से संघर्ष करते देखा जा रहा है।

प्रदेश भाजपा प्रवक्ता रंजना साहू ने कहा कि आज पूरे प्रदेश की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिकाएं अपनी 6 सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन करने विवश हैं। कांग्रेस ने सत्ता में आने के लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिकाओं की मांगों को पूरा करने का वादा किया था। कांग्रेस ने वादा किया था कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओें को नर्सरी शिक्षक के पद पर संविलियन किया जाएगा तथा उन्हें कलेक्टर दर पर भुगतान किया जाएगा। सत्ता में आने के बाद अब तक कांग्रेस सरकार ने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं से किए वादों को पूरा नहीं किया है।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता रंजना साहू ने कहा कि कम वेतन व भत्ता आदि न दिये जाने के बाद भी उनसे स्वयं के खर्च पर मोबाईलय में कार्य करने के लिए बाध्य किया जाता है। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के आंदोलन से प्रदेश भर के आंगनबाड़ी केन्द्र बंद हो गए हैं। जिसके कारण आंगनबाड़ियों में बच्चों एव गर्भवती महिलाओं को दिये जाने वाला पोषण आहार भी बंद हो गया है। प्रदेश के लगभग 50 हजार आंगनबाड़ी केन्द्र बंद होने से कुपोषित बच्चों को पोषण आहार से वंचित होना पड़ेगा। साथ ही गर्भवती महिलाएं भी पोषण आहार से वंचित होंगी। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिकाएं अपनी मांगों को लेकर इससे पहले भी मार्च अप्रैल 2022 में आंदोलनरत थीं, तब कांग्रेस सरकार द्वारा केवल आश्वासन दिया गया। यह सरकार वादा करके साफ मुकर जाती है। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की मांग जायज है तथा प्रदेश सरकार अपने किए वादों को पूरा करें।

Share This:
%d bloggers like this: